Our Activities

 

International Seminar on Social Concern of Tourism

We organized an International Seminar on Social Concern of Tourism (पर्यटन के लोकसरोकार) on 9-10 Sept. 2016 at Jaipur in association with THAR. It was an initiate to provide a new identity and establishment of a new concept to World Heritage and Tourism (like Tourism and Social Concern, Business Concern of Tourism, Tourism, Media and Public opinion, Rajasthan Heritage and different Aspect of Tourism, Changing Scenario of Tourism, Tourism and Literature) through an International Seminar. In addition, it worked academically, technically and traditionally through Workshops, Speeches and Discussions on different aspects of Heritage and Tourism. Tourism and Historical Academy of Rajasthan, International Institute for Media and Films, LBS (PG) College (Jaipur), Kumaun University (Nainital), Vikram University (Ujjain), Delhi University, Mumbai University, Nanawati College (Mumbai), Virajo Sa Tourism Pvt. Ltd, Folklore Productions, Crafters Radio School, Desi Bonkers, Jaipur Rugs, Hello Bike Taxi, Pickclick, Sekawati Bags, Utpal and The Dream Welfare Society Jaipur were associated with us. More than 500 participants globally attended 2 days Seminar. Experts from various academic institutes like Central Universities, State Universities & others Institutes came to join the International Seminar.

IMG_3463
IMG_3481
IMG_3501
IMG_3500
IMG_3513
IMG_3465
IMG_3487
IMG_3489
IMG_3490
IMG_3493
IMG_3494
IMG_3497
IMG_3498
IMG_3499

बुद्धम् शरणम्

साहित्य, कला और संस्कृति के लिए जब बात की जाती है तो महात्मा बुद्ध का नाम उसमें महत्वपूर्ण रूप से सामने आता है। जीवन, दर्शन और समाज को लेकर किए गए उनके कार्य न केवल महत्वपूर्ण हैं बल्कि मानवता को सही राह दिखाने में उनका योगदान अद्वितीय है। संसार उनके इसी व्यक्तित्व को लेकर  उनमें लीन होने की कामना रखता है और इसीलिए यह कहा गया “बुद्धम् शरणम् गच्छामि”।

आज वैश्वीकरण के इस दौर में आवश्यकता है कि हम नए सिरे से बुद्ध और उनके दर्शन की पड़ताल करें और साहित्यिक और सांस्कृतिक स्वरूप में उनके विराट व्यक्तित्व को नवआयाम दें। इसी उद्देश्य से प्रेरित होकर प्रस्तुत है कार्यक्रम “बुद्धम् शरणम्”।

6 मई, 2017 को बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर इस कार्यक्रम को जयपुर के झालाना परिसर स्थित ऑफिसर्स क्लब में आयोजित किया गया। इसमें चिंतक, लेखक, कलाकार, शोधकर्ता और क्रियात्मक अभिरुचि के लोग सम्मिलित हुए और अपनी विषय विशेषज्ञता के अनुरूप संवाद किया।

कार्यक्रम की रूपरेखा के पक्ष इस प्रकार रहे –

  1. बुद्ध रचनाओं की सांगीतिक प्रस्तुति
  2. बुद्ध के कलात्मक चित्रों की प्रदर्शनी
  3. बौद्ध विद्वानों की विचार अभिव्यक्ति
  4. बुद्ध जीवन एवं दर्शन परकेंद्रित कवि गोष्ठी
  5. आज का समाज और बुद्ध दृष्टि पर विचार विमर्श

जयपुर के अंतर्राष्ट्रीय NGO ‘The Dream Welfare Society Jaipur’, मीडिया मिर्ची और थार के सहभागी स्वरूप में इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया। The Poetry Recitals और Blue Bucks Production इस कार्यक्रम के आयोजन सहभागी रहे।

buddham sharnam
buddham sharnam